कहाँनी सुनेगा कोई ?? कहाँनी ? जी हां. बड़ी सतरंगी , अतरंगी. कहानियाँ दिल की कलम से , भावनाओ की साही से गुलाबी कागज़ पर सजाई हुई कहनियाँ. सूखे पेड़ की , खुली हुई छाँव की कहाँनी. बेजुबान आँखों की कहाँनी, नदी , पर्वत , धुप छांव, पथ्थर, आँचल , घर, माकन ,इंट और रिश्तो की कहाँनी पहली फ्रेंड रिकवेस्ट से कमिटेड के स्टेट्स की कहाँनी हर तरह की कहानी है मेरे पास. अजी आपकी भी कहानी है. जी हां आपकी कहानी क्यों ? हर कहनी में अपने आप को ढूढ नहीं लेते ? चालिए तो एक नई कहानी में खुद को ढूढने. हमारे साथ.... आज का नाटक "मेरी फ़ेवरिट शर्ट" कहानी : मानव कोल लेखन और दिगदर्शन : अंकित गोर Tickets available at the hall in 150,200,250 Must watch

Radio Jockey India | Indian Actor | Event Host | Columnist | Lecturer | Creative Director of Innovative Ideas

कहाँनी सुनेगा कोई ?? कहाँनी ?
जी हां. बड़ी सतरंगी , अतरंगी. कहानियाँ
दिल की कलम से , भावनाओ की साही से
गुलाबी कागज़ पर सजाई हुई कहनियाँ.

सूखे पेड़ की , खुली हुई छाँव की कहाँनी.
बेजुबान आँखों की कहाँनी,
नदी , पर्वत , धुप छांव, पथ्थर, आँचल ,
घर, माकन ,इंट और रिश्तो की कहाँनी
पहली फ्रेंड रिकवेस्ट से कमिटेड के स्टेट्स की कहाँनी

हर तरह की कहानी है मेरे पास.
अजी आपकी भी कहानी है.
जी हां आपकी कहानी
क्यों ? हर कहनी में अपने आप को ढूढ नहीं लेते ?
चालिए तो एक नई कहानी में खुद को ढूढने.
हमारे साथ....

आज का नाटक

"मेरी फ़ेवरिट शर्ट"

कहानी : मानव कोल

लेखन और दिगदर्शन : अंकित गोर

Tickets available at the hall in 150,200,250

Must watch

कहाँनी सुनेगा कोई ?? कहाँनी ? जी हां. बड़ी सतरंगी , अतरंगी. कहानियाँ दिल की कलम से , भावनाओ की साही से गुलाबी कागज़ पर सजाई हुई कहनियाँ. सूखे पेड़ की , खुली हुई छाँव की कहाँनी. बेजुबान आँखों की कहाँनी, नदी , पर्वत , धुप छांव, पथ्थर, आँचल , घर, माकन ,इंट और रिश्तो की कहाँनी पहली फ्रेंड रिकवेस्ट से कमिटेड के स्टेट्स की कहाँनी हर तरह की कहानी है मेरे पास. अजी आपकी भी कहानी है. जी हां आपकी कहानी क्यों ? हर कहनी में अपने आप को ढूढ नहीं लेते ? चालिए तो एक नई कहानी में खुद को ढूढने. हमारे साथ.... आज का नाटक "मेरी फ़ेवरिट शर्ट" कहानी : मानव कोल लेखन और दिगदर्शन : अंकित गोर Tickets available at the hall in 150,200,250 Must watch

Let's Connect

sm2p0